Select Page

CCC Opening and Closing Documents Study Material in Hindi

  CCC Opening and Closing Documents Study Material in Hindi:- Important Topic CCC Book PDF File NIELIT DOEACC CCC Opening and Closing Documents Study Material in Hindi, and Most Imoprtant CCC MS word 2010 Typing and Editing A Document Study Material Question Answer Paper Pdf Download in Hindi, NiELIT naming a Document for CCC Computer Exam Preparation Syllabus in Hindi, CCC Closing and Quitting Word 2010 Notes Study Material Previous Year Exam Practice Set in Hindi.

डॉक्यूमेंट को खोलना और बंद करना (Opening and Closing Documents) (CCC Study Material)

किसी मौजूद डॉक्यूमेंट को खोलना (Opening an Existing Documents) आप किसी नई डॉक्यूमेंट को खोलकर उसमे मॉडिफिकेशनस करके, दुसरे नामे से और दूसरी झग पर सेव कर सकते है | एक मौजूद डॉक्यूमेंट को खोलने के लिए:
  1. फाइल टैब पर क्लीक करें, बैक स्टेज व्यू आ जायेगा |
  2. ओपन टैब पर क्लीक करें ओपन डायलोग बॉक्स चित्र एक की तरह दिखाई देगा |
  3. लुकइन : ड्रॉप डाउन लिस्ट में जो फाइल आप खोलना चाहते है | उसकी लोकेशन चुने |
  4. ड्रॉप डाउन ट्रएंगल व्यूज बटन को क्लीक करके जिस तरह से फाइल और फोल्डर लिस्ट टेबल फॉर्म में डिस्प्ले होगी, उसे बदले:
चित्र 1. ओपन डायलोग बॉक्स 
DOEACC CCC Ms Word Ppen Dialog Box Study Material in Hindi

DOEACC CCC Ms Word Ppen Dialog Box Study Material in Hindi

बटन फंक्शन
थम्बनेल यह आयक्न्स को थम्बनेल्स में प्रदर्शित करता है | जब आप एक फोल्डर के नाम पर क्लीक करते है, तो एक गाढ़ा हाईलाइटेड बॉर्डर दिखाई देता है |
टाइल्स यह अयक्न्स को मीडियम साइज़ में डिस्प्ले करता है |
आयक्न्स यह आयक्न्स को छोटे साइज़ में डिस्प्ले करता है |
लिस्ट यह कमांड्स की एक लिस्ट डिस्प्ले करता है |
डिटेल्स यह फाइल की डिटेल्स जैसे साइज़, टाइप, लास्ट मोडिफाईड आदि को डिस्प्ले करता है |
प्रोपर्टीज यह फाइल की प्रोपर्टीज डिस्प्ले करता है |
प्रीव्यू यह फाइल का प्रीव्यू डिस्प्ले करता है
  1. डॉक्यूमेंट को लिस्ट में से चुनकर, ओपन बटन पर क्लीक करें |
  2. सिलेक्ट किया गया वर्ड 2010 डॉक्यूमेंट खुल जायेगा |
एक डॉक्यूमेंट में चारो और मूव करना डॉक्यूमेंट में स्क्रॉल करना आप माउस या कीबोर्ड का प्रयोग करके डॉक्यूमेंट में स्क्रॉल कर सकते है | यदि आप डॉक्यूमेंट विंडो को स्प्लिट करते है, तो आप डॉक्यूमेंट के दो अलग-अलग भाग देख सकते है | माउस की सहायता ससे डॉक्यूमेंट में स्क्रॉल करना
ऐसा करने के लिए यह करें
एक लाइन उपर स्क्रॉल करने के लिए आप स्क्रॉल ऐरो पर क्लीक करें
एक लाइन निचे स्क्रॉल करने के लिए डाउन स्क्रॉल ऐरो पर क्लीक करें
एक स्क्रीन उपर स्क्रॉल करने के लिए स्क्रॉल बॉक्स के उपर क्लीक करें
एक स्क्रीन निचे स्क्रॉल करने के लिए स्क्रॉल बॉक्स के निचे क्लीक करें
एक निश्चित पेज पर स्क्रॉल करने के लिए स्क्रॉल पेज को ड्रैग करें |
बाएँ स्क्रॉल के लिए बाएँ स्क्रॉल ऐरो पर क्लीक करें |
दाएँ स्क्रॉल के लिए दाएँ स्क्रॉल ऐरो पर क्लीक करें |
नॉर्मल व्यू में मार्जिन से शिफ्ट की दबा कर लेफ्ट स्क्रॉल
आगे बाई और स्क्रॉल करने के लिए `शिफ्ट की दबा कर लेफ्ट स्क्रॉल ऐरो पर क्लिक करें |
एक पेज उपर या निचे स्क्रॉल करने का तेज तरीका है, वर्टिकल स्क्रॉल बार पर सिलेक्ट ब्राउज ऑब्जेक्ट पर क्लीक करें और फिर मनचाहे विकल्प पर क्लीक करें |

एक डॉक्यूमेंट को टाइप करना एवं उसकी एडिटिंग करना (Typing and Editing a Document) (CCC Question Answer Paper in Hindi)

आप एक डॉक्यूमेंट में, बिना राइट मार्जिन के अंत की चिंता किये हुए, टायपिंग स्टार्ट कर सकते है | लाइन के अंत में जो शब्द होते है, ऑटोमैटिक रूप से टेक्स्ट को अगली लाइन में रैप (wrap) कर लेंगे | Backspace Key दबाकर टेक्स्ट को सही कर सकते है | डॉक्यूमेंट की एडिटिंग, विंडोज के सिद्धांत पर आधारित होती है, अर्थात सिलेक्ट करो फिर काम करो |

सेव और सेव ऐज (Save and Save As) (CCC Syllabus in Hindi)

पहली बार जब आप एक फाइल को सेव करते है, तो आपको तीन आइटम्स निर्धारित करने होंगे:
  1. ड्राइव और फोल्डर जिसमे आप अपनी फाइल स्टोर करना चाहते है |
  2. फाइल का नाम |
  3. फाइल को सेव करने का फ़ॉर्मेट |
एक डॉक्यूमेंट को सेव करने के लिए:
  1. फाइल टैब पर क्लीक करके सेव टैब पर क्लीक करें | क्विक एक्सेस टूलबार पर स्थित सेव बटन को चुने |
  2. जब अप पहली बार एक डॉक्यूमेंट को सेव करते है तो वर्ड 2010 Save As……..डायलोग बॉक्स डिस्प्ले करता है (चित्र 2 में देखें) ताकि आप डॉक्यूमेंट का नाम टाइप कर सकें |
  3. सेव इन: ड्रॉप डाउन में क्लीक करें और ड्राइव या फोल्डर का नाम निर्धारित करें जिसमे आप फाइल को सेव करेंगे |
  4. फाइल नेम: टेक्स्ट बॉक्स में क्लीक करें और फाइल के लिए एक नाम टाइप करें |
  5. सेव बटन पर क्लीक करें |

एक डॉक्यूमेंट को नाम देना (Naming a Document) (CCC Notes in Hindi)

विंडोज में, फाइल का नाम एक से 255 कैरेक्टर्स तक लम्बा हो सकता है | इसके बाद पीरियड (.) लगता है और तीन कैरेक्टर्स तक का फाइल नेम एक्सटेंशन होता है | (अधिकांश केसों में यही होता है की वर्ड को ही, वर्ड डॉक्यूमेंटस के लिए डिफ़ॉल्ट नाम सप्लाई करने को कहा जाता है, जो की .DOC होता है |) आप फाइलो को नाम देते समय निम्न कैरेक्टर्स को छोड़कर अन्य कोई भी कैरेक्टर इस्तेमाल कर सकते है | *?:{}+=\/:<> अप पीरियड (.) का इस्तेमाल सिर्फ फाइल नाम को एक्स्टेन्शन से अलग करने के लिए ही कर सकते है अन्यथा नही |

पेज सैटअप विकल्प (Page Setup Options) (CCC Model Paper in Hindi)

वर्ड 2010 की डिफ़ॉल्ट मार्जिन उपर और निचे से 1 इंच होती है जबकि बाएँ और दाएँ से 1.25 इंच होती है | आप पुरे डॉक्यूमेंट की मार्जिन बदल सकते है या डॉक्यूमेंट के अलग अलग भाग की मार्जिन बदल सकते है | (यदि आपने डॉक्यूमेंट को सेक्शनस में विभाजित किया है तो) नोट करें की ड्राफ्ट और आउटलाइन व्यू में, आप मार्जिन नही देख पाते है | लेकिन आप इनके बीच में स्पेस को देख पाते है | प्रिंट लेआउट व्यू को सिलेक्ट करो यदि आप चाहते है की हैडर्स, फुटर्स, पेज नंबर्स, फुटनोट्स आदि दिखे | आप दो में से एक प्रकार का पेज ओरिएंटेशन भी चुन सकते है जैसे पोट्रेट (वर्टिकल) या लैंडस्कैप (होरीजोंटल) | आप किसी एक सैक्शन या पुरे डॉक्यूमेंट के लिए पेपर साइज़ और पेज ओरिएंटेशन को बदल सकते है |
·         मार्जिन सैटिंग्स में इंडेंट्स जुड़ जाते है | अर्थात यदि आप 1.0” लेफ्ट मार्जिन स्पेसिफाई करते है और ½ लेफ्ट इंडेंट तो आपका टेक्स्ट लेफ्ट मार्जिन से 1.5” पर प्रिंट होगा | यदि आप 1.0” राइट मार्जिन सैट करते है और पैराग्राफ के राइट किनारे को 1.0” पर इंडेंट करते है तो टेक्स्ट पेज के राइट किनारे से 2” पहले ही स्टॉप हो जायेंगा (चित्र 3 में देखें)
एक पेज में केवल एक यूजर डिफाइनड (user defined) लेफ्ट मार्जिन सैटिंग्स हो सकती है और केवल एक ही यूजर डिफाइनड राइट मार्जिन सैटिंग है लेकिन पेज के प्रत्येक पैराग्राफ में अलग अलग लेफ्ट और राइट इंडेंटेशन हो सकते है |

डॉक्यूमेंट की मार्जिन सैट करना (Setting Document Margins) (CCC Sample Paper in Hindi)

मार्जिन सैट करने के दो तरीके है | ये है:
·         आपको एक डॉक्यूमेंट प्रिंट करने से पहले इसे प्रीव्यू करना चाहिए | इससे आपको यह पता लगाने में मदद मिलेगी की पेज ब्रेक वास्तव में कहां आएंगा | यदि आवश्यक हो तो आप इसे बदल भी सकते है |
चित्र 2. सेव ऐज डायलोग बॉक्स 
NIELIT MS Word Save as Dialog Box Study Material in Hindi

NIELIT MS Word Save as Dialog Box Study Material in Hindi

  • पेज सैटअप कमांड द्वारा जो पेज लेआउट टैब में होता है |
  • प्रिंट लेआउट व्यू में रुलर्स का प्रयोग करके मार्जिन एडजस्ट करना
चित्र 3. पेज मार्जिन और इंडेंट
CCC MS Word Page Margin and Indent Study Material in Hindi

CCC MS Word Page Margin and Indent Study Material in Hindi

पेज सैटअप कमांड द्वारा मार्जिन सैट करने के लिए:
  1. उन सेक्शन्स को सिलेक्ट करो जिनके लिए आप मार्जिन बदलना चाहते है या इन्सशरन पॉइंट को उस सेक्शन में रखो जिसकी मार्जिन आप बदलना चाहते है |
  2. पेज लेआउट टैब पर क्लीक करो और पेज सैटअप के दाएँ कोने में बने ऐरो पर क्लीक करो | पेज सैटअप डायलोग बॉक्स खुलेगा | चित्र 4 की तरह मार्जिन टैब प्रोपर्टी शीट सामने आएंगी जब इस पर क्लीक करेंगे |
  3. मार्जिन प्रोपर्टीज में निम्न ऑप्शन होते है :
ऑप्शन (Options) विवरण (Description)
टॉप (top) पेज के उपर से मनचाही मार्जिन टाइप करो या सिलेक्ट करो |
बॉटम (Bottom) पेज के निचे से मनचाही मार्जिन टाइप करो या सिलेक्ट करो |
लेफ्ट (Left) पेज के बाएँ किनारे से मनचाही मार्जिन टाइप करो या सिलेक्ट करो |
राइट (Right) पेज के दाएँ किनारे से मनचाही मार्जिन टाइप करो या सिलेक्ट करो |
गटर (Gutter) जैसी आवश्यकता हो वैसी गटर स्पेस को सिलेक्ट करो या टाइप करो | गटर वह एक्स्ट्रा (extra) स्पेस होती है जो मार्जिन में जोड़ी जाती है ताकि बाइंडिंग (binding) के लिए जगह छोड़ी जा सके |
ओरिएंटेशन (Orientation) पोट्रेट या लैंडस्कैप पेज सैटिंग विकल्पों में से एक को चुनो
  1. एप्लाई टू: में, डॉक्यूमेंट का वह भाग चुनो जहां से आप नई सैटिंग एप्लाई करना चाहते है |
  2. मिरर मार्जिन: यह ऑप्शन लेफ्ट राइट मार्जिन एडजस्ट करता है जिससे जब आप पेज केदोनो तरह प्रिंट करते है तो फेसिंग (facing) पेजों की इनसाइड और आउटसाइड मार्जिन दोनों बराबर विड्थ की होती है | प्रीव्यू बॉक्स आपके द्वारा सिलेक्ट की गयी सैटिंग्स का इफेक्ट दिखाता है |
  3. OK पर क्लीक करो |
चित्र 4. पेज सैटअप डायलोग बॉक्स
CCC MS Word Page Setup Dialog Box Study Material in Hindi

CCC MS Word Page Setup Dialog Box Study Material in Hindi

रुलर का प्रयोग करके मार्जिन सैट करने के लिए:
  1. प्रिंट लेआउट व्यू में स्विच करो |
  2. यदि रुलर प्रदर्शित नही है तो व्यू टैब में जाकर शा ग्रुप पर क्लीक करके रुलर चैक बॉक्स को चुनें |
  3. रुलर पर ट्रांजिशन एरिया को पॉइंट करो अर्थात वहाँ जहाँ ग्रे धीरे धरे व्हाइट हो जाता है |
  4. माउस पॉइंटर डबल हैडेड ऐरो में बदल जाता है |
  5. मार्जिन को माउस से ड्रैग करके, मनचाही जगह पर ले जाओ | जब आप ड्रैग करते है तो रुलर के डाइमेंशन्स (dimensions) बदल जाते है | (चित्र 5 में देखें)
चित्र 5. मार्जिन बदलने के लिए रुलर के सिरों को प्रिंट लेआउट में ड्रैग करें |
CCC Study Material in Hindi

CCC Study Material in Hindi

पेपर साइज़ और पेज ओरिएंटेशन (Paper Size and Page Orientation) जो पेपर साइज़ आप इस्तेमाल करते है, उसके अनुसार ही अक्सर पेज मार्जिन सैट होती है | पेपर साइज़ को सिलेक्ट करने के लिए:
  1. जिस सेक्शन को आप बदलना चाहते है उसमे से टेक्स्ट को सिलेक्ट करो |
  2. पेज सैट अप डायलोग बॉक्स में, पेपर टैब पर क्लीक करो | चित्र 6 की तरह प्रोपर्टी शीट दिखाई देगी |
  3. ऑप्शन निचे दिए गये है:
ऑप्शन (Option) फंक्शन (Function)
पेपर साइज़ (Paper Size) ड्राप डाउन के रूप में जो लिस्ट है उसमे अलग-अलग स्टैंडर्ड पेपर साइज़ दिए गये है | इनमे से एक सिलेक्ट करो या विड्थ और हाईट बताओ | आमतौर पर A4 और लीगल (Legl) पेपर साइज़ प्रयोग होते है |
विड्थ (Width) आप जिस पेपर का प्रयोग कर रहे है उसकी विड्थ को टाइप करो या सिलेक्ट करो |
हाईट (Height) आप जिस पेपर का प्रयोग कर रहे है उसकी हाईट को टाइप करो या सिलेक्ट करो |
  1. एप्लाई टू: में डॉक्यूमेंट का वह भाग सिलेक्ट करो जो आप सिलेक्टेड पेपर साइज़ पर प्रिंट करना चाहते है |
  2. डिफ़ॉल्ट बटन पर क्लीक करो यदि आप इन सैटिंग्स को डिफ़ॉल्ट सैटिंग के रूप में सेव करना चाहते है, जिसमे आप इसे, इसके बाद प्रिंट होने वाले
  3. OK पर क्लीक करो |
चित्र 6. पेपर साइज़ प्रोपर्टीशीट टैब 
CCC Paper Size Properties Sheet Study Material in Hindi

CCC Paper Size Properties Sheet Study Material in Hindi

डॉक्यूमेंट को प्रीव्यू और प्रिंट करना (Previewing and Printing a Document) CCC Study Material 2018 2019

जब आप किसी डॉक्यूमेंट को प्रिंट करने के लिए तैयार होते है, तब आप फाइल टैब पर क्लीक करें और प्रिंट पर पॉइंट करें | जब बैक स्टेज व्यू सामने दिखाई देगा तब प्रिंट आयकन पर क्लीक करें | वर्ड तब आपके कंप्यूटर के डिफ़ॉल्ट प्रिंटर का और प्रिंट बैकस्टेज व्यू में निर्धारित की गयी सैटिंग्स का प्रयोग करता है | आप एक अलग प्रिंटर का भी प्रयोग कर सकते है या फाइल टैब बैक स्टेज व्यू में प्रिंटर सैटिंग्स को बदल सकते है | आप फिर यह निर्धारित कर सकते है की किस प्रिंटर का प्रयोग करना है और क्या प्रिंट करना है तथा कितनी कॉपीज प्रिंट करनी है | आप सैटिंग्स में अन्य बदलाव भी कर सकते है |
·         एक डॉक्यूमेंट प्रिंट करने से पहले, आपको प्रीव्यू द्वारा चैक करना चाहिए की ये पेपर पर किस तरह दिखेगा | प्रीव्यूइंग मल्टीपेज डॉक्यूमेंट के लिए जरूरी है लेकिन यह एक पेज के डॉक्यूमेंट के लिए भी उपयोग है |
प्रिंटर प्रोपर्टीज के विकल्पों को सैट करना (Setting Printer Properties Options) विंडोज प्रिंटर को सैटअप करने की पूरी जानकारी को मैनेज करती है | लेकिन विंडो आपके लिए तीन कम छोड़ देती है:
  • वर्ड 2010 में जो प्रिंटर आप इस्तेमाल करना चाहते है उसे चुनना |
  • उस प्रिंटर को इनस्टॉल करना यदि यह विंडोज प्रिंटर्स की लिस्ट में शामिल नही है |
  • स्पेशल प्रिंटर की जरुरतो के लिए प्रिंटर सैटअप बदलना |
·         अधिकतर प्रिंटर विकल्प वर्ड 2010 द्वारा आपके चुने गये प्रिंटर के आधार पर सैट किये गये है | इसमें ऐसे कई विकल्प उपलब्ध है जिनसे आप अपनी जरुरतो के अनुसार प्रिंटिंग विकल्पों को कस्टमाइज कर सकते है |
चित्र 7. फाइल टैब में प्रिंटर प्रोपर्टीज सिलेक्ट करना 
CCC Printer Properties Study Material in Hindi

CCC Printer Properties Study Material in Hindi

प्रिंटर स्पेसिफिक विकल्पों को सैट करने के लिए :
  1. फाइल पर क्लीक करें, चित्र 7 की तरह से बैक स्टेज व्यू दिखाई देगा |
  2. प्रिंटर ड्रॉप-डाउन लिस्ट के अंतर्गत, प्रिंटर को सिलेक्ट करें |
  3. फाइल बैक स्टेज व्यू में प्रिंटर प्रोपर्टीज पर क्लीक करें (चित्र 7 में देखें)
  4. प्रिंटर प्रोपर्टीज डायलोग बॉक्स चित्र 8 की तरह से दिखेगा |
  5. प्रोपर्टीज डायलोग बॉक्स में आमतौर पर निम्न टैब होते है |
चित्र 8. प्रिंटर प्रोपर्टीज डायलोग बॉक्स
CCC Printer Properties Dialogue Box Study Material in Hindi

CCC Printer Properties Dialogue Box Study Material in Hindi

टैब विकल्प
एडवांस्ड (Advanced) अतिरिक्त फीचर्स जैसे पेज प्रोटेक्शन, कॉपीज, पेपर साइज़ और पोस्टस्क्रिप्ट विकल्प एडवांस्ड तै पर पाए जा सकते है |
पेपर/क्वालिटी (Paper/Quality) पेपर और प्रिंटिंग की क्वालिटी के लिए विकल्प सैट करता है |
फिन्सिशिंग (Finishing) जो आप चाहते है वह प्रिंटिंग क्वालिटी सिलेक्ट करें | यह विकल्प प्रत्येक प्रिंटर के लिए अलग-अलग हो सकता है |
इफेक्ट्स (Effects) यह आपके डॉक्यूमेंट के प्रिंट्स को एक पेपर साइज़ पर दिखाता है जो फोर्मेटेड से अलग होता है | इसमें नॉर्मल साइज़ की परसेंटेज भी निर्धारित होती है |
  1. एडवांस्ड टैब पर क्लीक करें | इसके विकल्प है:
पेज ऑर्डर सैक्सन में
  • यदि आप फ्रंट टू बैक चुनते है, तो यह उस ऑर्डर को निर्धारित करता है जिसमे आपके डॉक्यूमेंट इ पेजेस प्रिंट होंगे | यह पेज 1 से लेकर अंत तक प्रिंटिंग करता है |
  • यदि आप बैक टू फ्रंट चुनते है, तो यह डॉक्यूमेंट को अंतिम से लेकर पहले पेज तक प्रिंट करता है |
  1. पेपर/क्वालिटी टैब पर क्लीक करें, इसके विकल्प इस प्रकार है: (देखें चित्र 9 में)
चित्र 9. पेपर/क्वालिटी टैब प्रोपर्टीज शीट के प्रोपर्टीज विकल्प
CCC Paper Quality Tab Study Material in Hindi

CCC Paper Quality Tab Study Material in Hindi

पेपर विकल्प में
  • अलग पेपर पर क्लीक करके सैटिंग्स को पूरा करें जो आपको एक अलग पेपर सोर्स सिलेक्ट करने और पहले पेज के लिए सैटिंग्स टाइप करने की अनुमति देती है | आप अन्य पेजेस और बैक कवर के लिए भी सैटिंग्स टाइप कर सकते है |
  • सोर्स इज्र : ड्रॉप डाउन लिस्ट पर क्लीक करें और मनचाहे विकल्प को चुने जहाँ पर पेपर प्रिंटर में स्थित है |
  • टाइप इज्र : जिस तरह का पेपर आप प्रयोग करना चाहते है उसे चुने |
  • OK पर क्लीक करे |
  • प्रिंट डायलोग बॉक्स में, पुन: Ok पर क्लीक करें |
करेंट डॉक्यूमेंट को प्रिंट करना (Printing the Current Document) प्रिंट का सबसे सरल तरीका है पहले डॉक्यूमेंट को खोलना | फाइल टैब पर क्लीक करे, प्रिंट टैब चुने | बैकस्टेज व्यू आता है, इसपर प्रिंट आयकन चुने | या क्विक एक्सेस टूलबार पर स्थित प्रिंट बटन पर क्लीक करे | डिफ़ॉल्ट से, वर्ड 2010 सिलेक्ट किये गये प्रिंटर पर खुले गये करेंट डॉक्यूमेंट की केवल एक कॉपी ही प्रिंट करंता है और छिपे हुए टेक्स्ट को प्रिंट नही करता है | डॉक्यूमेंट की एक कॉपी प्रिंट करने के लिए:
  1. प्रिंट किये जाने वाले डॉक्यूमेंट को खोलें |
  2. फाइल टैब पर क्लीक करें और फिर प्रिंट कमांड चुने | प्रिंट बैक स्टेज व्यू दिखाई देता है, अब प्रिंट आयकन पर क्लीक करे या CTRL + SHIFT + F2 कीज को एक साथ दबाएँ (देखें चित्र 10 में)
  3. प्रिंट बैक स्टेज व्यू बंद हो जाता है और स्टेट्स बार में प्रिंट जॉब को प्रोसेस डिस्प्ले होती है (चित्र 11 में देखें)
चित्र 10. प्रिंट के बैक स्टेज व्यू 
CCC MS WORD Print Backstage View Study Material in Hindi

CCC MS WORD Print Backstage View Study Material in Hindi

चित्र 11. स्टेट्स बार में प्रिंट जॉब की प्रोसेस डिस्प्ले होना 
DOEACC CCC Study Material Quesiton Answer

DOEACC CCC Study Material Quesiton Answer

पेज रेंज विकल्प (Page Range Options)
  • पूरा डॉक्यूमेंट प्रिंट करने के लिए, ऑल बटन पर क्लीक करो जिससे यह गाढ़ा दिखे |
  • केवल उस पेज की प्रिंट करने के लिए जिसमे अभी इंसर्शन पॉइंट है, करेंट पेज बटन पर क्लीक करो |
  • सिलेक्टेड टेक्स्ट को प्रिंट करने के लिए, पहले इसे सिलेक्ट करो, इसके बाद प्रिंट डायलोग बॉक्स में, पेज रेंज एरिया में सिलेक्शन बटन का इस्तेमाल करो | यह चॉइस तब डीम्ड (dimmed) हो जाएँगी जब आप अपने डॉक्यूमेंट में कुछ और सिलेक्ट करेंगे |
  • पेजों की एक रेन जैसे एक 50 पेज वाले डॉक्यूमेंट में 6 से 10 तक के पेजों को प्रिंट करने के लिए, पहला पेज नम्बर टाइप करो और फिर अंतिम नम्बर को भी, पेजेस: टेक्स्ट विक्स ने टाइप करो | दोनों नम्बरों को अलग करने के लिए एक हाइफन का प्रयोग करो (जैसे 6-10) |
  • आप एक खास सेक्शन में भी पेजों को प्रिंट कर सकते है | आपके डॉक्यूमेंट में दुसरे सेक्शन को प्रिंट करने के लिए, पेजेज बॉक्स में S2 टाइप करो | यदि आप दुसरे सेक्शन के पेज संख्या 7 से तीसरे सेक्शन के पेज संख्या 10 तक प्रिंट करना चाहते है तो पेजेज बॉक्स में P7S2-P10S3 टाइप करो |
  • प्रिंट : ड्रॉप डाउन लिस्ट में वो ऑप्शन होते है जो आपको, उन पेजों का सिलेक्ट करने की अनुमति देते है, जिन्हें अप प्रिंट करना चाहते है | ये ऑप्शन है:
ऑप्शन (Option) विवरण (Description)
ऑल पेजेस यह डिफ़ॉल्ट ऑप्शन है और वर्ड, रेंज में सभी पेजों को प्रिंट करता है |
ओड पेजेस (Odd Pages) जब इस ऑप्शन को सिलेक्ट किया जाता है तो यह रेंज के ओड नम्बर वाले पेजों को प्रिंट करता है |
इवन पेजेस (Even Pages) जब इस ऑप्शन को सिलेक्ट किया जाता है तो यह रेंज के इवन नम्बर वाले पेजों को प्रिंट करता है |
ओड और इवन पेजेस का ऑप्शन बहुत उपयोगी है, जब आप डबल साइडेड प्रिंटिंग करना चाहते है | कॉपीज (Copies): नम्बर ऑफ़ कॉपीज बॉक्स में, आप डॉक्यूमेंट की जितनी कॉपीज प्रिंट करना चाहते है, वह संख्या स्पेसिफाई करो | कोलेट (Collate): यह ऑप्शन निर्धारित करता है की मल्टीपल कॉपीज किस तरह प्रिंट होंगी | मानलो आप एक 10 पेज वाले डॉक्यूमेंट की पाँच कॉपीज बिना Collate ऑप्शन के प्रिंट करते है, तो वर्ड 2010 पहले पेज 1 की 5 कॉपीज प्रिंट करेंगा, फिर पेज 2 की और अंत में पेज 10 की | आप को इनके सैट्स बनाने के लिए मैनुअली इन्हें अरेंज करना पड़ेगा | लेकिन Collate ऑप्शन से, वर्ड 2010 पाँच सैट्स प्रिंट करेगा | प्रत्येक, क्रम में पूरी तरह से कम्प्लीट होंगे | प्रिंटिंग को कैंसिल करने के लिए:
  1. स्टार्ट बटन पर क्लीक करके प्रिंटर एण्ड फैक्सेज पर क्लीक करो |
  2. प्रिंटर एण्ड फैक्सेस डायलोग बॉक्स में जब प्रिंटर आयकन पर डबल क्लीक करके प्रिंटर फोल्डर को खोल सकते है (देखें चित्र 12 में)
  3. उस डॉक्यूमेंट को सिलेक्ट करो जिसकी प्रिंटिंग आप कैंसिल करना चाहते है | और फिर डॉक्यूमेंट का नाम चुन कर राइट क्लीक करके कैंसिल प्रिंटिंग चुनो | यदि प्रिंटर आयकन विंडोज के टास्क बार पर नही दिखाई देता है तो वर्ड ने शायद प्रिंट के कार्य को पहले ही प्रिंटर पर भेज दिया है |
चित्र 12. प्रिंटर फोल्डर विकल्प
CCC MS Word 2010 Printer Folder Option Study Material

CCC MS Word 2010 Printer Folder Option Study Material

एक डॉक्यूमेंट प्रीव्यू करने के लिए:
  1. उस डॉक्यूमेंट को खोलें जिसका प्रिंट प्रीव्यू आप देखना चाहते है |
  2. फाइल टैब पर क्लीक करें और फाइल टैब से प्रिंट विकल्प चुनें | प्रिंट विकल्प बैक स्टेज व्यू में दिखाई देंगे जैसा आप चित्र 13 में देख सकते है |
  3. बैक स्टेज व्यू में तीन पेन्स होते है | लेफ्ट पेन में कई विकल्प होते है जैसे सेव, सेव ऐज, ओपन, क्लोज, इन्फो, रीसेंट आदि मिडिल पेन पेन में, प्रिंट विकल्प और इससे सम्बन्धित प्रिंटर सैटिंग्स होती है राइट पेन में, प्रीव्यू डॉक्यूमेंट देखा जा सकता है | राइट पेन के निचे ज़ूम कण्ट्रोल बटन उपलब्ध होता है | + (प्लस) बटन का प्रयोग डॉक्यूमेंट को बड़ा करने में और (माइंस) बटन का प्रयोग प्रीव्यू डॉक्यूमेंट को छोटा करने में होता है | नेक्स्ट बटन का डॉक्यूमेंट के अलगे पेज पर जाता है और प्रीवियस बटन डॉक्यूमेंट के पिछले पेज पर |
चित्र 13. बैक स्टेज व्यू में प्रिंट प्रीव्यू
CCC MS Word Backstage View Print Preview Study Materail

CCC MS Word Backstage View Print Preview Study Materail

वर्ड 2010 को बंद करना और उसमे से बहर निकलना (Closing and Quitting Word 2010) (CCC Question Model Paper in Hindi)

डॉक्यूमेंट में कम खत्म करने के बाद, आप विंडो को क्लोज करें ताकि ये स्क्रीन से हट जाए और कंप्यूटर की मेन मेमोरी भी फ्री हो जाये | एक डॉक्यूमेंट को बंद करके वर्ड 2010 से बाहर आने के लिए:
  1. फाइल टैब पर क्लीक करो और क्लोज टैब को चुने |
  2. यदि लास्ट सेव के बाद से डॉक्यूमेंट में कोई बदलाव नही किया गया है तो विंडो क्लोज हो जाएगी | लेकिन यदि लास्ट बार डॉक्यूमेंट को सेव करने के बाद से आपने कोई बदलाव किया है तो वर्ड 2010 एक एलर्ट (Alert) डायलोग बॉक्स दिखायेगा | जिसमे पूछा जायेगा की आप क्लोज करने से पहले अपना काम सेव करना चाहते है क्या? (देखें चित्र 14)
  3. डॉक्यूमेंट के कंटेंट्स को सेव करने के बा, विंडो बंद हो जाती है |
वर्ड 2010 को क्विट करने के लिए:
  1. फाइल टैब पर क्लीक करें, अब एक्जिट चुने | वर्ड 2010 विंडो बंद हो जायेगी | और एप्लीकेशन टर्मिनेट हो जायेगा (छत्र 15 में देखें)
चित्र 14. अलर्ट डायलोग बॉक्स 
CCC MS Word Alert Dialog Box Study Material in Hindi

CCC MS Word Alert Dialog Box Study Material in Hindi

चित्र 15. फाइल टैब में से एग्जिट सिलेक्ट करना 
CCC File Tab Exit Option Select Study Material in Hindi

CCC File Tab Exit Option Select Study Material in Hindi

Related Post for CCC Study Material Question Answer Paper in Hindi

NIELIT DOEACC CCC Study Material Question Answer Paper Syllabus in Hindi

Follow me at social plate Form